बहराइच विद्युत व्यवस्था को बेहतर से और बेहतर किये जाने के डीएम ने दिये निर्देश।

बहराइच विद्युत व्यवस्था को बेहतर से और बेहतर किये जाने के डीएम ने दिये निर्देश।

बहराइच विद्युत व्यवस्था को बेहतर से और बेहतर किये जाने के डीएम ने दिये निर्देश।

बहराइच की विद्युत व्यवस्था को बेहतर से और बेहतर किये जाने, विद्युत उपभोक्ताओं को निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित कराये जाने, शासन द्वारा निर्धारित रोस्टर के अनुसार शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्र में विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित कराये जाने, समय से विद्युत ट्रांसफार्मरों का परिवर्तन, स्थानीय फाल्टों, जर्जर तारों एवं विद्युत पोलों को समय से दुरूस्त कराये जाने, विद्युत उपभोक्ताओं के बिलों से सम्बन्धित समस्याओं सहित अन्य विभागीय कार्यो की गहन समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी डॉ. दिनेश चन्द्र ने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिया कि विद्युत उपभोक्ताओं की समस्याओं को शीर्ष प्राथमिकता प्रदान करते हुए समयबद्ध निस्तारण सुनिश्चित कराया जाय।
बुधवार को देर शाम कलेक्ट्रेट सभागार में विद्युत विभाग के कार्यों की समीक्षा हेतु आयोजित बैठक के दौरान त्रृटिपूर्ण बिलों के सम्बन्ध में विद्युत उपभोक्ताओं की ओर से प्राप्त होने वाली समस्याओं के निस्तारण के लिए जिलाधिकारी ने मैकेनिज़्म डेवलप कर समयबद्धता के साथ समस्या का समाधान कराये जाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि उप खण्ड अधिकारी के स्तर पर ऐसी समस्याओं को सूचीबद्ध कर उनका विवरण रखा जाय तथा विभागीय अधिकारी नियमित रूप से इस कार्य की समीक्षा भी करते रहें। डीएम ने विभागीय अधिकारियों को सचेत किया कि विद्युत विभाग में जनससमयाओं को लेकर प्रदेश के मुखिया अत्यन्त गम्भीर हैं इसलिए सभी जिम्मेदार अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि बिलिंग और रीडिंग का कार्य त्रुटिरहित तरीके से हो विद्युत उपभोक्ता को किसी प्रकार की समस्या न हो।
जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियन्ताओं को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया कि सभी अधिकारी व कर्मचारी अपने तैनाती स्थल पर निवास करें। तैनाती स्थल पर निवास करने से सम्बन्धित जियो टैग फोटोग्राफ्स भी प्राप्त किये जाय। डीएम ने निर्देश दिया कि सम्बन्धित फर्म के साथ मीटर रीडर्स के कार्यों की समीक्षा कर लापरवाह व उदासीन किस्म के लोगों को चेतावनी जारी की जाय तथा कार्यों में सुधार न पाये जाने पर सम्बन्धित के विरूद्ध कठोर कार्रवाई अमल में लायी जाय। डॉ. चन्द्र ने निर्देश दिया कि विभाग अन्तर्गत गठित समितियों की बैठके समय से करायी जायें। जर्जर तारों और खम्भों को चिन्हित कर अवर अभियन्ता के माध्यम से उन्हें बदलने की कार्यवाही भी समय से की जाय।
डॉ. चन्द्र ने विभागीय अधिकारियों को यह भी निर्देश दिया कि ऐसे क्षेत्र जहॉ पर विद्युत आपूर्ति को लेकर समस्या आ रही है उन्हें चिन्हित कर कारणों को सार्ट आउट करें और ऐसे क्षेत्रों में विद्युत आपूर्ति में सुधार लाया जाय। जिलाधिकारी ने विभागीय अधिकारियों और कर्मचारियों का आहवान किया विभागीय कार्यों की महत्ता को दृष्टिगत रखते हुए अपने पदेन उत्तरदायित्वों का निवर्हन पूरी निष्ठा और ईमानदारी के साथ करें ताकि लोग विभागीय कार्यवाही से संतुष्ट रहें और शिकायतें कम से कम प्राप्त हों। डीएम ने विभागीय अधिकारियों को यह भी निर्देश दिया कि आईजीआरएस अन्तर्गत प्राप्त होने वाली शिकायतों को गुणवत्तापरक ढंग से समय से निस्तारित करायें। इस अवसर पर अधीक्षण अभियन्ता ए.एस. रघुवंशी, अधि. अभि. विद्युत वितरण खण्ड मुकेश बाबू, नानपारा कृष्ण कुमार, कैसरगंज, सुनील कुमार गुप्ता सहित अन्य विभागीय अधिकारी व अन्य सम्बन्धित मौजूद रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.